अकबर बीरबल के हंसी से लोट-पोट कर देने वाले चुटकुले | Akbar Birbal Jokes In Hindi

मित्रों, “akbar birbal jokes hindi” के कलेक्शन में आज हम आपके लिए दो हँसी से लोट-पोट कर देने वाले चुटकुले लेकर आये हैं. अकबर बीरबल (akbar birbal) के मध्य अक्सर मज़कियाँ बातें होती रहती थी. दोंनो बड़े अदब से एक-दूसरे की टांग खिंचाई किया करते थे. इस “akbar birbal ke chutkule” में दोनों के मध्य हास्य-विनोद पूर्ण वार्ता का वर्णन है.  

रोज़ा ना टूटे : अकबर बीरबल का चुटकुला | Akbar Birbal Ke Chutkule

akbar birbal jokes hindi
Source : Akbar Birbal PNG

 

रोज़े के दौरान एक बार अकबर ने बीरबल से पूछा, “बीरबल! कोई ऐसा तरीका बताओ कि मैं खाऊँ-पियूं भी और मेरा रोज़ा भी ना टूटे.

बीरबल ने कहा, “हुज़ूर! आप लोगों के लात-घूंसे खाइये और अपना गुस्सा पी लीजिये. आप सब कुछ टूटेगा, किंतु रोज़ा नहीं.”

अकबर ये सोचते रह गए कि उन्होंने बीरबल से ये सवाल पूछा ही क्यों.

हज़ार जूते : अकबर बीरबल का चुटकुला | Akbar Birbal Jokes Hindi

akbar birbal jokes hindi
Source : Akbar Birbal PNG


एक बार अकबर को मसखरी सूझी और उन्होंने बीरबल के जूते छिपवा दिये. बीरबल जब घर जाने को हुआ और उसे अपने जूते नहीं मिले, तो वह कुछ परेशान हो गया. तब अकबर ने बीरबल की चुटकी लेते हुए सेवकों हुए कहा, “बीरबल को दो जूते दिए जायें.”

बीरबल अकबर की टांग खिंचाई की आदत से वाकिफ़ था. वह अकबर के व्यंग्य बाण का अर्थ समझ गया. जब उसे जूते लाकर दिए गए, तो मुस्कुराते हुए वह बड़े ही अदब से बोला, “जहाँपनाह! आपने मुझे दो जूते दिए, भगवान आपको ऐसे हजारों जूते दे.” इतना कहकर वह वहाँ से निकल गया. इधर अकबर बीरबल के कही बात का मतलब निकालते रह गए.    

दोस्तों, आशा है आपको “akbar birbal ke chutkule” पसंद आये होंगे. आप इन्हें Like कर सकते हैं और अपने Friends को Share भी कर सकते हैं. ऐसे ही मज़ेदार Akbar Birbal Jokes In Hindi पढ़ने के लिए हमें subscribe ज़रूर कीजिये. Thanks.

Read More Akbar Birbal Jokes Hindi :

Add Comment